Ads Area

Polytechnic main koun koun si branch hoti hai.

Polytechnic में कौन कौन सी ब्रांच होती है।(How  many branch in Polytechnic)

(Best Branch In Polytechnic)




नमस्कार दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट में बताने वाले है की पॉलीटेक्निक में कितनी ब्रांच होती है।

दोस्तों पॉलीटेक्निक परीक्षा राज्य के स्तर पर होती है, भारत के ज्यादातर राज्यों में इसकी परीक्षा होता है, जैसे:- बिहार, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, झारखंड, हरियाणा, दिल्ली , पश्चिम बंगाल प्रमुख है।


Eligibility:-

अगर आप 10वीं पास है तो इस फॉर्म को भर सकते हैं,
अगर आप 12वीं पास है तो भी इस फॉर्म को भर सकते हैं,
साथ में अगर आपने बेचलर डिग्री ले रखी है तब भी आप इस फॉर्म को भर सकते हैं


Age :-दोस्तों अगर आपकी उम्र 14 वर्ष है तो आप पॉलीटेक्निक का फ्रॉम भर सकते है 


चलिए दोस्तों अब हम बात करते है कि पॉलीटेक्निक में कौन कौन सी ब्रांच होती है।


दोस्तों वैसे बहुत सी ब्रांच होती है पॉलीटेक्निक में , पर हम आपको यहां कुछ अच्छी ब्रांचों के नाम नीचे दिये गए हैं।


1)Mechanical Engineering
a) Automobile
b) Production
c) Cad ( Computer Aded Design)
d) Maintenance
e) Refrigeration and air conditioning


मैकेनिकल इंजीनियरिंग में जैसा कि आप ऊपर देख सकते हैं पांच ब्रांच जिनके अलग अलग काम है लेकिन सभी काम मैकेनिकल के द्वारा ही जुड़े रहते हैं यानी की यांत्रिक अभियांत्रिकी द्वारा ही सभी काम जुड़े हुए हैं।


2)Civil Engineering 

सिविल अभियांत्रिकी मैं कंस्ट्रक्शन बिल्डिंग जैसे कार्यों को सीखा जाता है ऑल सिविल इंजीनियरिंग की तैयारी के बाद इसी प्रकार के इंजीनियर बनते हैं जो कि अलग-अलग तरीकों के जैसे किसी बिल्डिंग के कंस्ट्रक्शन का काम हो किसी हाईवे के काम का हो वह पूरी तरीके से उसका देखभाल और निर्वहन करते हैं।

3)Electrical Engineering

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विद्युत से जुड़े उपकरणों को बनाना उनको रिपेयर करना जैसे कामों को सीखते हैं और उन्हें करते हैं।


4) Electrical Engineering
 (Industrial Control)

इंडस्ट्रियल कंट्रोल में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर इंडस्ट्रियल  में उपयोग होने वाले उपकरणों को बनाते हैं और उस को रिपेयर करने की चीजों को सीखते हैं।


5)Electronics Engineering

इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग भी इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की तरह ही है लेकिन इसमें  बहुत ही छोटे छोटे पार्ट को बनाया जाना और उनका अध्ययन किया जाता है और उन्हें बनाया जाता है।


6) Electronics Engineering
( Modern consumer Electronics Appliances)

इसमें भी इंजीनियर छोटे पार्ट को ही बनाना सीखते है लेकिन इसमें कुछ मॉडर्न यंत्र होते हैं जिनको बनाने की प्रक्रिया सीखी जाती है और उनको बनाया जाता है।


7) Electronics Engineering
(Advance microprocessor interface )

इस प्रकार की इंजीनियरिंग में एडवांस माइक्रो प्रोसेसर जैसे यंत्रों के इंटरफ़ेस को बनाया जाता है और उनको बनाने की प्रक्रिया को सीखा जाता है उनका अध्ययन किया जाता है।


8) Electronics Engineering
(Micro  Electronic. )

इस प्रकार की इंजीनियरिंग में बहुत ही छोटे यंत्रों और उनके पार्ट्स को बनाया जाता है और उनको बनाने की प्रक्रिया को सीखा जाता है उनका अध्ययन किया जाता है।


9)   Information Technology

इंटरनेट से जुड़ी सुविधाओं को और उनकी जानकारी को स्टूडेंट्स इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के अंतर्गत अध्ययन करते हैं।



10) Idd ( Interior design and decorations)

इस इंजीनियरिंग के अंतर्गत डिजाइन को बनाया जाता है जो कि बड़े-बड़े डिजाइन जो होते हैं उनको बनाया जाता है और सीखा जाता है इंटीरियर डिजाइन एंड डेकोरेशन के अंदर।


11) Mass Communication

बोलचाल की उच्चतम भाषा को मास कम्युनिकेशन के अंतर्गत सीखा जाता है और उसका अध्ययन किया जाता है मास कम्युनिकेशन के बाद समाचार पत्रों में भी लोगों की जॉब लगती है।


12) Chemical Engineering

कृषि और इंडस्ट्रियल जैसे अनेक सेक्टर में केमिकल इंजीनियरिंग की आवश्यकता पड़ती है और इसमें केमिकल इंजीनियर जो अपने कामों को सीखते हैं और करते हैं।


13)  Computer Science And Engineering

कंप्यूटर से जुड़ी चीजों को सीखना और उनके बारे में अध्ययन हम इस ब्रांच के अंदर सीखते है।


दोस्तों अगर आप उत्तर प्रदेश से फ्रॉम को भरना चाहते है तो आप Official Website
Jeecup.nic.in
से फ्रॉम भर सकते हैं।



दोस्तों आपको ये पोस्ट कैसी लगी कमेंट में जरूर बताएं साथ में आपको किस टॉपिक पर जानना है ओ भी कमेंट करे हम आपको समझाने की ऐसे ही पूरी कोशिश करेंगे।


इसे अपने सभी दोस्तों में please share kre,
और आप हम फॉलो जरूर करे।

Thank You Friends 😍😍





Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads Area